Sidebar Logo ×
होम /बिहार / औरंगाबाद

सड़क चौड़ीकरण के लिए तोड़ी गयी शिव मंदिर के मलबे को साफ कर की गई शिवलिंग की पूजा

सिक्स लेन सड़क निर्माण के लिए हाई कोर्ट के आदेश पर शिवगंज के प्राचीन शिव मंदिर को तोड़ दिया गया था।

सत्यम मिश्रा

सत्यम मिश्रा

औरंगाबाद, Aug 09, 2021 (अपडेटेड Aug 25, 2021 11:13 PM बजे)

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग ऑथॉरिटी (NHAI) द्वारा रोड चौड़ीकरण के नाम पर शिवगंज में तोड़े गए शिव मंदिर को लेकर आक्रोश बढ़ता जा रहा है। आज (सोमवार को) औरंगाबाद से भाजयुमो के पूर्व जिला मंत्री प्रकाश सोलंकी के नेतृत्व में युवाओं के एक प्रतिनिधिमंडल शिवगंज पहुंचकर स्थिति के जायजा लिया और सीओ से मुलाकात कर हर हाल में मंदिर निर्माण कराने की बात कही।


प्रतिनिधिमंडल में अलग अलग दलों के नेता शामिल थे ।मंदिर तोड़े जाने को लेकर गहरी नाराजगी जताते हुए युवाओं ने कहा कि किसी भी हाल में NHAI को शिव मंदिर का निर्माण कराना होगा।


जिसके बाद सैंकड़ों की संख्या में युवाओं ने मदनपुर सीओ से मुलाकात कर मंदिर तोड़े जाने को लेकर नाराजगी जताई। इसपर सीओ ने भी हर संभव मदद करने की बात कही।सीओ ने कहा कि हाई कोर्ट के आदेश के बाद रोड किनारे बसे निर्माण को हटाया जा रहा था उसी क्रम में त्वरित कारवाई का आदेश मिलने के बाद मंदिर को हटाया गया है।

हाई कोर्ट के आदेश पर तोड़ा गया, जल्द बनेगा नया मंदिर: सीओ

सीओ ने कहा कि मंदिर निर्माण में हर सम्भव सहयोग किया जाएगा। जैसे ही कोई व्यक्ति अपना जमीन देने को तैयार होता है तो उस जमीन का रजिस्ट्रेशन करवाकर नए मंदिर का निर्माण कार्य प्रारंभ करा दिया जाएगा। सीओ ने कहा कि मंदिर तोड़ने से पहले कई बार नोटिस भी दिया गया था। कई मीटिंग भी हुई लेकिन किसी के आपत्ति नही होने के बाद मंदिर को हाई कोर्ट के निर्देश के बाद तोड़ा गया है।

सावन माह में और बिना पूजा किये मूर्ति को हटाया जाना आस्था के साथ खिलवाड़: प्रकाश सोलंकी

नेतृत्व कर रहे प्रकाश सोलंकी ने कहा कि किसी मंदिर को हटाने से पहले पूरे विधि के साथ पूजन कर मूर्ति को हटाया जाता है। और वैसे भी सावन के महीने में जहां शिव पूजा की परंपरा है वैसे में शिवगंज में मंदिर तोड़कर पूरे हिन्दू समाज के आस्था से खिलवाड़ किया गया है। जिसे बर्दास्त नही किया जा सकता। इस महीने जहां सभी शिव भक्त शिव पूजा में व्यस्त रहते है ,वैसे में हमें प्रशासन की गलत रवैये के कारण शिव मंदिर के मलवा को हटाने पर विवश होना पड़ रहा है। हमे किसी भी हाल में अपने देवी देवताओ का अपमान बर्दास्त नही है। NHAI को जल्द से जल्द नए स्थान पर मंदिर निर्माण करवाकर मूर्ति स्थापित करवाना होगा नहीं तो युवा शांत नही बैठेंगे।


इस मौके पर वीएचपी के जयनंदन शर्मा, भाजयुमो के उपाध्यक्ष अभिषेक सिंह, राजीव गुप्ता, अविनाश गुप्ता, गौरव सिंह, नितेश सिंह, तुसी कुमार ,कुंदन सिंह,सचदेवा क्लासेज के डायरेक्टर धीरज सिंह, एनएसयूआई नेता विवेक चौहान, शुभम सिंह, भूलन सिंह, संस्कार भारती के नवीन सिन्हा, सचिन सिन्हा, विक्की सिंह, आदित्य सिंह, राहुल समेत सैकड़ों युवा मौजूद रहे।

मंदिर के मलवा साफ कर की गई शिवलिंग की पूजा


मदनपुर सीओ के पास नाराजगी जताने के बाद सभी लोग प्रकाश सोलंकी के नेतृत्व में शिवगंज मंदिर पहुंचे और तोड़े गए मंदिर के मालवा को हटाकर शिवलिंग और हनुमान मंदिर की विधिवत पूजा की। इस दौरान अभिषेक वासु और राजीव गुप्ता ने पूजा की।

शिवगंज में मंदिर को तोड़ना दुर्भाग्यपूर्ण: रामाधार सिंह

पूर्व मंत्री रामाधार सिंह ने कहा कि शिवगंज में मंदिर को तोड़ना दुर्भाग्यपूर्ण है।किसी भी मंदिर को तोड़ने से पहले नए स्थान पर बनाया जाना चाहिए था। ऐसा नही करके NHAI ने हिंदुओं के आस्था के साथ खिलवाड़ किया है। पूर्व मंत्री ने कहा कि इस मामले को देश के राजमार्ग मंत्री, विकास पुरुष आदरणीय नितिन गडकरी जी के समक्ष जल्द ही उठाऊंगा। उन्होंने कहा कि हमारे आस्था के साथ किसी को भी खिलवाड़ करने का हक़ नही है और मंदिर बनकर रहेगा।

Source: Emaa Times

औरंगाबाद, बिहार की सभी लेटेस्ट खबरों और विडियोज को देखने के लिए लाइक करिए हमारा फेसबुक पेज , आप हमें Google News पर भी फॉलो कर सकते हैं।
Subscribe Telegram Channel

Loading Comments