Sidebar Logo ×
होम /बिहार / औरंगाबाद

मिलेगा रामाबांध ओवरब्रिज में जाम से निजात? खनन और यातायात व्यवस्था के लिए DM की समीक्षा बैठक

जिले में जाम की समस्या पर Aurangabad Now ने कईं बार ग्राउंड रिपोर्टिंग किया है। गुरुवार को हुए समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी ने भी इस समस्या को दूर करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया है। नीचे पढिये पूरी ख़बर

Aurangabad Now Desk

Aurangabad Now Desk

औरंगाबाद, Nov 19, 2021 (अपडेटेड Nov 19, 2021 1:44 AM बजे)

औरंगाबाद जिला पदाधिकारी, श्री सौरभ जोरवाल द्वारा खनन विभाग एवं यातायात व्यवस्था की समीक्षा बैठक आयोजित की गई।

इस समीक्षा बैठक में उप विकास आयुक्त अंशुल कुमार, सदर अनुमंडल पदाधिकारी विजयंत कुमार, जिला परिवहन पदाधिकारी बालमुकुंद प्रसाद, सदर भूमि सुधार उप समाहर्ता अविनाश कुमार सिंह, भूमि सुधार उप समाहर्ता दाउदनगर संजय कुमार, एसडीपीओ गौतम शरण ओमी, वरीय उप समाहर्ता अमित कुमार सिंह, खनिज विकास पदाधिकारी पंकज कुमार एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

संबंधित अंचल अधिकारी करेंगे बालू घाट का निरीक्षण

बैठक में जिला पदाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि जिले के सभी बालू घाटों का संबंधित अंचल अधिकारी स्थलीय निरीक्षण करेंगे। साथ ही अन्य विभाग यथा वन विभाग एवं सिंचाई विभाग से सेडीमेंट डिपोजिशन से संबंधित रिपोर्ट मांगने का निर्देश खनिज विकास पदाधिकारी को दिया गया। इसके अतिरिक्त अवैध खनन को रोकने हेतु अवैध खनन स्थानों को चिन्हित कर लगातार छापेमारी करने का निर्देश दिया गया।

जाम की समस्या से मिलेगा निजात, रमेश चॉक पर लगेगा साइन बोर्ड और ओवरब्रिज से हटेगा अतिक्रमण

इसके अतिरिक्त जिला पदाधिकारी द्वारा औरंगाबाद जिले में जाम की समस्या से निजात पाने एवं यातायात व्यवस्था को सुदृढ़ करने के उद्देश्य से समीक्षा बैठक आहूत की गई। बैठक में अंचल अधिकारियों को निर्देश दिया गया कि सभी अंचलों में ब्लैक स्पॉट को चिन्हित कर प्रतिवेदन जिला में समर्पित करें। जिला परिवहन पदाधिकारी को साइनेज जांच करने का निर्देश दिया गया एवं रमेश चौक पर साइनेज लगाने का निर्देश दिया गया। साथ ही रामाबांध ओवरब्रिज के नीचे अस्थाई अतिक्रमण को नगर परिषद द्वारा माइकिंग कराकर एवं नोटिस कर हटाने का निर्देश दिया गया।

इसे भी पढ़ें: रामाबान्ध बस स्टैंड और ओवरब्रिज के पास दिन भर लगा रहता है महाजाम! ग्राउंड जीरो से औरंगाबाद नाउ की खास रिपोर्ट

जिला पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि अस्थाई अतिक्रमण हटाने के लिए पुलिस प्रशासन से मदद ली जाय। बताया गया कि परिवहन विभाग एवं पुलिस प्रशासन द्वारा वाहनों की जांच के दौरान मद्यनिषेध की जांच भी की जाय। इसके अतिरिक्त जिला पदाधिकारी द्वारा सड़क दुर्घटना से मृत व्यक्ति के आश्रितों को यथाशीघ्र अनुग्रह अनुदान प्रदान करने का निर्देश दिया गया।

Source: Aurangabad Now

औरंगाबाद, बिहार की सभी लेटेस्ट खबरों और विडियोज को देखने के लिए लाइक करिए हमारा फेसबुक पेज , आप हमें Google News पर भी फॉलो कर सकते हैं।
Subscribe Telegram Channel

Loading Comments